Paytm के शेयरों में 20% की गिरावट; ब्रोकरेज फर्मों की रेटिंग डाउनग्रेड का असर | Paytm shares fall by 20%; impact of rating downgrade of brokerage firms in hindi

MSR

Paytm shares fall by 20%; impact of rating downgrade of brokerage firms in hindi

Paytm के शेयरों में 20% की गिरावट; ब्रोकरेज फर्मों की रेटिंग डाउनग्रेड का असर (Paytm shares fall by 20%; impact of rating downgrade of brokerage firms in hindi)

 Paytm shares fall by 20%; impact of rating downgrade of brokerage firms in hindi

डिजिटल पेमेंट्स कंपनी Paytm के शेयरों में आज भारी गिरावट देखी गई. शेयरों में 20% की लोअर सर्किट लग गई, जिसका सीधा मतलब है कि एक दिन में शेयर की कीमत 20% से अधिक नहीं बढ़ सकती है. इस गिरावट का मुख्य कारण ब्रोकरेज फर्मों द्वारा कंपनी की रेटिंग डाउनग्रेड करना माना जा रहा है.

ब्रोकरेज फर्मों ने किया रेटिंग डाउनग्रेड:

  • विदेशी ब्रोकरेज फर्म ने Paytm को “अंडरपरफॉर्म” रेटिंग दी है, जिसका मतलब है कि कंपनी के शेयरों में आगे अच्छा प्रदर्शन नहीं होने की उम्मीद है.
  • इस ब्रोकरेज फर्म ने Paytm के शेयरों का लक्ष्य मूल्य 900 रुपये तय किया है, जो वर्तमान मूल्य से 25% कम है.
  • अन्य ब्रोकरेज फर्मों ने भी Paytm के शेयरों के लिए लक्ष्य मूल्य घटाया है और रेटिंग में कमी की है.
  • ब्रोकरेज फर्मों का मानना है कि कंपनी के कारोबार में आगे भी headwinds बने रहेंगे, जिसका असर मुनाफे पर पड़ेगा.

Paytm के सामने चुनौतियां:

  • Paytm को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है, जिनमें से कुछ प्रमुख चुनौतियां हैं:
    • तेज प्रतिस्पर्धा: डिजिटल पेमेंट्स के क्षेत्र में Paytm को कई बड़े खिलाड़ियों से कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है, जिनमें Google Pay, PhonePe और Amazon Pay शामिल हैं.
    • मुनाफा न होना: Paytm अभी तक मुनाफे में नहीं आ पाई है और कंपनी को लगातार घाटा हो रहा है.
    • रेगुलेटरी दबाव: RBI द्वारा डिजिटल पेमेंट्स के क्षेत्र में नए नियम बनाए जाने से Paytm जैसे कंपनियों पर दबाव बढ़ रहा है.
    • नुकसान में चल रहा लोन कारोबार: Paytm का लोन कारोबार भी अभी तक नुकसान में चल रहा है, जिसका असर कंपनी के overall performance पर पड़ रहा है.

पेटीएम के शेयर प्राइस टारगेट: विश्लेषकों की राय; कमाई के अनुमान और बहुत कुछ

पेटीएम (Paytm), भारतीय डिजिटल भुगतान और वित्तीय सेवा कंपनी, के शेयरों ने हाल ही में निवेशकों का ध्यान अपनी ओर खींचा है। कंपनी के Q4FY22 के नतीजे जारी होने के बाद, विश्लेषकों ने पेटीएम के शेयरों के लिए नए लक्ष्य मूल्य निर्धारित किए हैं और भविष्य की कमाई के बारे में अनुमान जारी किए हैं।

👉 टाटा मोटर्स के शेयरों में आज चमक; 0.52% की बढ़ोतरी के साथ 705.45 रुपये…

विश्लेषकों का नजरिया:

विश्लेषकों का मानना है कि पेटीएम के शेयरों में अच्छा अपसाइड बाकी है, हालांकि लक्ष्य मूल्य को लेकर उनके बीच कुछ मतभेद भी हैं। कुछ प्रमुख विश्लेषकों के नए लक्ष्य मूल्य इस प्रकार हैं:

  • बर्नस्टीन: ₹950 (पिछला लक्ष्य: ₹1100)
  • जेएम फाइनेंशियल: ₹1000
  • ब्रोकरेज फर्म: ₹1400
  • अन्य: ₹450 – ₹750

विश्लेषक मुख्य रूप से तीन कारणों से पेटीएम के प्रति सकारात्मक हैं:

  • ** सुधारते हुए मार्जिन:** पेटीएम अपने लागत ढांचे को सुव्यवस्थित कर रहा है और परिचालन दक्षता में सुधार कर रहा है, जिससे मार्जिन में सुधार आ रहा है।
  • ** कर्ज वितरण का बढ़ना:** पेटीएम का लोन डिस्ट्रीब्यूशन बिजनेस तेजी से बढ़ रहा है, जो कंपनी के राजस्व में एक महत्वपूर्ण योगदानकर्ता बनने की उम्मीद है।
  • ** EBITDA ब्रेक-ईवन की संभावना:** विश्लेषकों का मानना है कि पेटीएम वित्त वर्ष 2023-24 के अंत तक EBITDA ब्रेक-ईवन हासिल कर सकता है, जो कंपनी के लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर होगा।

हालांकि, कुछ विश्लेषकों को पेटीएम के कर्ज पोर्टफोलियो की गुणवत्ता को लेकर चिंता है और उनका मानना है कि बढ़ती ब्याज दरें कंपनी के मार्जिन पर दबाव डाल सकती हैं।

कमाई के अनुमान:

पेटीएम के लिए कमाई के अनुमान भी आशावादी हैं। विश्लेषकों का अनुमान है कि कंपनी का शुद्ध घाटा वित्त वर्ष 2022-23 में कम होगा और वित्त वर्ष 2024-25 तक मुनाफे में बदल जाएगा।

निवेशकों को क्या करना चाहिए?

पेटीएम के शेयरों में निवेश करने से पहले निवेशकों को कई कारकों पर विचार करना चाहिए, जैसे कि कंपनी का वित्तीय प्रदर्शन, भविष्य की विकास संभावनाएं, और बाजार की स्थिति।

कुछ जोखिमों पर भी विचार करना महत्वपूर्ण है, जैसे कि बढ़ती ब्याज दरों का प्रभाव और कंपनी के कर्ज पोर्टफोलियो की गुणवत्ता पर चिंताएं।

निवेशकों को पेटीएम के शेयरों के बारे में विस्तृत अध्ययन करना चाहिए और अपने निवेश निर्णय लेने से पहले बाजार में विशेषज्ञों से सलाह लेनी चाहिए।

पेटीएम के शेयरों में अच्छा अपसाइड बाकी है, लेकिन निवेशकों को सावधान रहना चाहिए और अपने निवेश निर्णय लेने से पहले सभी जोखिमों को ध्यान में रखना चाहिए।

Leave a Comment