ओलंपिक लॉस एंजिल्स 2028: IOC ने पांच अतिरिक्त खेलों के प्रस्ताव को मंजूरी दी बेसबॉल, क्रिकेट, फ़्लैग फ़ुटबॉल, लैक्रोस और स्क्वैश

ओलंपिक लॉस एंजिल्स 2028: IOC ने पांच अतिरिक्त खेलों के प्रस्ताव को मंजूरी दी बेसबॉल, क्रिकेट, फ़्लैग फ़ुटबॉल, लैक्रोस और स्क्वैश (Olympic Los Angeles 2028: IOC approves five additional sports Add Baseball, Cricket, Flag Football, Lacrosse, and Squash)

ओलंपिक लॉस एंजिल्स 2028: IOC ने पांच अतिरिक्त खेलों के प्रस्ताव को मंजूरी दी बेसबॉल, क्रिकेट, फ़्लैग फ़ुटबॉल, लैक्रोस और स्क्वैश
ओलंपिक लॉस एंजिल्स 2028: IOC ने पांच अतिरिक्त खेलों के प्रस्ताव को मंजूरी दी बेसबॉल, क्रिकेट, फ़्लैग फ़ुटबॉल, लैक्रोस और स्क्वैश

अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) के 141वें सत्र में लॉस एंजिल्स 2028 (LA28) के लिए पांच अतिरिक्त खेलों के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। ये पांच खेल हैं:

  • बेसबॉल/सॉफ्टबॉल
  • क्रिकेट (T20)
  • फ्लैग फुटबॉल
  • लैक्रोस (सिक्स)
  • स्क्वैश

इन पांचों खेलों को LA28 ओलंपिक कार्यक्रम में अतिरिक्त खेलों के रूप में शामिल किया जाएगा।

LA28 ने इन खेलों का प्रस्ताव क्यों किया?

LA28 ने इन पांच खेलों का प्रस्ताव इसलिए किया क्योंकि ये खेल दुनिया भर में लोकप्रिय हैं और इनके करोड़ों प्रशंसक हैं। LA28 का मानना है कि इन खेलों को ओलंपिक कार्यक्रम में शामिल करने से खेलों की वैश्विक अपील बढ़ेगी और नए दर्शकों को आकर्षित किया जा सकेगा।

इन खेलों के जुड़ने से ओलंपिक पर क्या प्रभाव पड़ेगा?

इन खेलों के जुड़ने से ओलंपिक अधिक समावेशी और युवा केंद्रित हो जाएगा। इनमें से अधिकांश खेल दुनिया के विभिन्न हिस्सों से आते हैं और इनमें युवा पीढ़ी की बड़ी भागीदारी है। इन खेलों के जुड़ने से ओलंपिक कार्यक्रम में और विविधता आएगी और यह अधिक लोगों को अपील करेगा।

👉 भारत बनाम बांग्लादेश केएल राहुल शानदार विकेटकीपिंग: वनडे विश्व कप में मेहदी हसन मिराज…

भारत के लिए इसका क्या अर्थ है?

भारत के लिए इन पांचों खेलों के जुड़ने का अर्थ है कि भारतीय एथलीटों के पास और अधिक ओलंपिक पदक जीतने के अवसर होंगे। बेसबॉल, क्रिकेट और स्क्वैश ऐसे खेल हैं जिनमें भारत की मजबूत अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठा है। इन खेलों के जुड़ने से भारतीय एथलीटों को ओलंपिक में पदक जीतने के लिए और अधिक अवसर मिलेंगे।

IOC सत्र द्वारा LA28 के लिए पांच अतिरिक्त खेलों के प्रस्ताव को मंजूरी दिए जाना एक सकारात्मक कदम है। इससे ओलंपिक अधिक समावेशी और युवा केंद्रित हो जाएगा। यह भारतीय एथलीटों के लिए भी एक अच्छी खबर है, क्योंकि उनके पास और अधिक ओलंपिक पदक जीतने के अवसर होंगे।

अतिरिक्त जानकारी:

  • बेसबॉल/सॉफ्टबॉल और स्क्वैश 2008 के बाद ओलंपिक कार्यक्रम में वापस आएंगे।
  • क्रिकेट और फ्लैग फुटबॉल पहली बार ओलंपिक कार्यक्रम में शामिल किए जाएंगे।
  • लैक्रोस (सिक्स) एक नया खेल है जिसे ओलंपिक कार्यक्रम में शामिल किया गया है।

इन पांचों खेलों के जुड़ने से LA28 ओलंपिक अब तक के सबसे रोमांचक और प्रतिस्पर्धी ओलंपिक खेलों में से एक होने का वादा करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here