कैमरून ग्रीन क्रिकेट जगत को हिला देने वाला खुलासा: RCB समेत सभी फैंस उनके लिए दुआ कर रहे हैं

MSR

Cameron Green's revelation that shook the cricket world: All the fans including RCB are praying for him in hindi

कैमरून ग्रीन क्रिकेट जगत को हिला देने वाला खुलासा: RCB समेत सभी फैंस उनके लिए दुआ कर रहे हैं (Cameron Green’s revelation that shook the cricket world: All the fans including RCB are praying for him in hindi)

Cameron Green's revelation that shook the cricket world: All the fans including RCB are praying for him in hindi

कैमरून ग्रीन: क्रिकेट जगत को हिला देने वाला खुलासा: RCB समेत सभी फैंस उनके लिए दुआ कर रहे हैं. क्रिकेट के दीवाने के लिए एक खबर आई हे की ऑस्ट्रेलिया के उभरते हुए युवा ऑलराउंडर कैमरून ग्रीन ने हाल ही में खुलासा किया है कि वह जन्म से ही क्रोनिक किडनी रोग से जूझ रहे हैं.

क्रिकेटर कैमरन ग्रीन अपने बचपन से ही एक किडनी बीमारी से पीड़ित हैं। उन्होंने एक साक्षात्कार में बताया कि उनकी मां के 19 हफ्ते के गर्भावस्था स्कैन के दौरान इस स्थिति की पहचान हुई थी।

उन्होंने इस बीमारी के बारे में जानकारी दी कि यह एक अवरोधी गुर्दे की बीमारी है जिसमें गुर्दे की कार्यक्षमता कम हो जाती है। उन्होंने बताया कि वे अभी इस बीमारी के पांचवें चरण में हैं जिसमें डायलिसिस की आवश्यकता होती है।

👉 AUS vs PAK: डेविड वार्नर ने शाहीन अफरीदी की गेंद पर फाइन लेग पर…

जी हां, जिस तेजतर्रार बल्लेबाज और गेंदबाज को हम मैदान में कहर बरपाते देखते हैं, उसकी जिंदगी एक अदृश्य लड़ाई से जुड़ी हुई है. ग्रीन ने बताया कि उन्हें जन्म से ही स्टेज दो की क्रोनिक किडनी रोग है, जिसके कारण उनकी किडनियां दूसरों की तरह खून को पूरी तरह से फिल्टर नहीं कर पाती हैं. डॉक्टरों ने तो यहां तक कह दिया था कि वह शायद 12 साल की उम्र पार भी न कर पाएंगे.

लेकिन कैमरून ग्रीन ने हार नहीं मानी. उन्होंने अपनी जिंदगी को एक चुनौती के रूप में लिया और डॉक्टरों की सलाह का कड़ाई से पालन किया. नियमित दवाईयों, खान-पान में बदलाव और कठिन प्रशिक्षण के बल पर उन्होंने न सिर्फ अपनी जान बचाई बल्कि क्रिकेट के शिखर पर भी पहुंचने का लक्ष्य बनाया.

👉 BCCI U-16 टूर्नामेंट ड्रविड़ vs सहवाग: दो दिग्गजों के बेटों का आमना-सामना

ग्रीन की कहानी न सिर्फ प्रेरणादायी है बल्कि हमें जिंदगी के प्रति एक नया नजरिया भी देती है. यह बताती है कि असाध्य लगने वाली बीमारियां भी मजबूत इरादे और सकारात्मक सोच के सामने झुकती हैं.

हालांकि, ग्रीन की लड़ाई अभी खत्म नहीं हुई है. उनका किडनी फंक्शन इस समय 60% है, जो किसी भी खिलाड़ी के लिए चिंता का विषय है. लेकिन ग्रीन की दृढ़ता और खेल के प्रति जुनून को देखते हुए यकीन है कि वह इस चुनौती को भी पार कर लेंगे.

हम सभी आरसीबी समर्थकों, कैमरून ग्रीन के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं. हम चाहते हैं कि वह जल्द ही मैदान पर लौटें और अपने शानदार प्रदर्शन से क्रिकेट प्रेमियों का मन मोहते रहें. RCB समेत सभी फैंस उनके लिए दुआ कर रहे हैं.

Leave a Comment