7 दिसंबर सशस्त्र सेना ध्वज दिवस: राष्ट्ररक्षकों का सम्मान और समर्थन का दिन | 7 December Armed Forces Flag Day in hindi

MSR

7 December Armed Forces Flag Day in hindi

सशस्त्र सेना ध्वज दिवस: राष्ट्ररक्षकों का सम्मान और समर्थन का दिन (7 December Armed Forces Flag Day in hindi)

7 December Armed Forces Flag Day in hindi

7 दिसंबर को पूरे भारत में सशस्त्र सेना ध्वज दिवस मनाया जाता है। यह दिन उन वीर सैनिकों को सम्मानित करने और उनके बलिदान को याद करने का एक अवसर है, जिन्होंने हमारे देश की रक्षा के लिए अपना जीवन लगा दिया। यह दिन उन सैनिकों के परिवारों की सहायता के लिए भी है, जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया है या जो स्वयं कर्तव्य के दौरान घायल हो गए हैं।

सशस्त्र सेना ध्वज दिवस का इतिहास:

1949 में, भारत सरकार ने सशस्त्र सेनाओं को समर्पित एक विशेष दिन मनाने का निर्णय लिया। 28 अगस्त, 1949 को रक्षा मंत्री के अधीन गठित एक समिति ने 7 दिसंबर को प्रतिवर्ष ध्वज दिवस मनाने का निर्णय लिया। यह तिथि भारतीय सैनिकों के युद्ध में महत्वपूर्ण जीत की याद दिलाती है, जिसने भारतीय उपमहाद्वीप में गोवा को पुर्तगाली शासन से मुक्त कराया।

👉 इटली की पीएम जियोर्जिया मेलोनी ने COP28 में अपने अच्छे दोस्त पीएम मोदी से…

सशस्त्र सेना ध्वज दिवस का महत्व:

  • वीर सैनिकों को सम्मान: यह दिन उन सैनिकों को सम्मान देने का एक अवसर है, जिन्होंने हमारे देश की रक्षा के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया है।
  • शहीदों के परिवारों की सहायता: यह दिन उन सैनिकों के परिवारों की सहायता के लिए है, जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया है या जो स्वयं कर्तव्य के दौरान घायल हो गए हैं।
  • सैनिक कल्याण कोष: इस दिन एकत्रित धन का उपयोग सैनिक कल्याण कोष में किया जाता है, जिसका उपयोग विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लिए किया जाता है, जैसे कि शिक्षा सहायता, चिकित्सा सहायता, आवास सहायता और पुनर्वास सहायता।
  • राष्ट्र के प्रति कर्तव्य का स्मरण: यह दिन सभी नागरिकों को राष्ट्र के प्रति अपने कर्तव्यों और सशस्त्र बलों के बलिदान को याद करने का अवसर प्रदान करता है।
  • राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा: यह दिन देश के विभिन्न हिस्सों के लोगों को एक साथ लाता है और राष्ट्रीय एकता और अखंडता की भावना को बढ़ावा देता है।

👉 निमोनिया से शीघ्र रिकवरी में सहायक 7 बेहतरीन खाद्य पदार्थ | 7 best foods…

सशस्त्र सेना ध्वज दिवस कैसे मनाया जाता है:

  • पूरे देश में सरकारी कार्यालयों, शैक्षणिक संस्थानों और सार्वजनिक स्थानों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाता है।
  • सैनिक कर्मचारी और पूर्व सैनिक विभिन्न कार्यक्रमों और रैलियों में भाग लेते हैं।
  • स्कूलों और कॉलेजों में सशस्त्र बलों के महत्व पर चर्चा की जाती है और छात्रों को सैनिकों के बलिदान के बारे में बताया जाता है।
  • सशस्त्र सेना कल्याण समितियां सार्वजनिक स्थानों पर ध्वज लगाकर धन जुटाती हैं।
  • नागरिक सशस्त्र सेना के कल्याण कोष में दान देकर अपना योगदान दे सकते हैं।

सशस्त्र सेना ध्वज दिवस पर हम क्या कर सकते हैं?:

  • सैनिकों और उनके परिवारों के प्रति सम्मान और आभार व्यक्त करें।
  • सशस्त्र सेना ध्वज दिवस के आयोजनों में सक्रिय रूप से भाग लें।
  • सशस्त्र सेना कल्याण कोष में दान करें।
  • सशस्त्र बलों के बारे में जागरूकता फैलाएं।
  • सैनिकों और उनके परिवारों की भलाई के लिए काम करने वाले संगठनों का समर्थन करें।

सशस्त्र सेना ध्वज दिवस हमें अपने सैनिकों और उनके परिवारों के बलिदान को याद करने का अवसर प्रदान करता है। यह दिन हमें राष्ट्र के प्रति अपने कर्तव्यों और सशस्त्र बलों के महत्व को समझने का भी अवसर प्रदान करता है। हम सभी को सशस्त्र सेना ध्वज दिव

Leave a Comment